New Hindi Great Romatic Shayari – Romantic Hindi Shayari

Hindi Romantic Shayari

 

आहिस्ता बोलने का अन्दाज़ बहुत कमल है,

कान सुनते कुछ नहीं पर दिल सुब कुछ समझ जाता है….

उम्र कितनी मंजिल तय कर चुकी थी मगर,
दिल एक बार तेरे दिल से टकराया तो ठहर ही गया,



Two Line Hindi Shayari


 टूटा हुआ फूल खुशबू दे जाता है,
बीता हुआ पल यादें दे जाता है,
हर शख्स का अपना अदाज होता हैं,

कोई जिन्दगी मे प्यार तो,
कोई प्यार मे जिन्दगी दे जाता हैं।…

बहुत अजीब है यह बंदिशें मोहब्बत की;

कोई किसी को बहुत टूट कर चाहता है;

और कोई किसी को चाह कर टूट जाता है।

Taare aasman me hi chamkte hai
Badal itne dur hai phir bhi baraste hai
Ham bhi kitne ajib hai tum dil me hi rehte ho
Aur ham tumse milne ko taraste hai

Hume Na Mohabbat Mili Na
Pyar Mila, Hum Ko Jo Bhi
Mila Bewafa Yaar Mila,
Apni To Ban Gayi Tamasha
Zindgi, Har Koi Apne
Maqsad Ka Talabgar Mila..!

Maine Har Roj Dua Mein Tujhe Manga Hai,
Hu Bewafa Magar Wafa Se Tujhe Manga Hai,
Kabhi Sajde Mein Ja Ke Puch Apne Rab se,
Maine Kis Kis Ada Se Tujhe uss se Manga Hai. 

Best Hindi Shayari Collection 

Aye dil_gujarish hai tujhse, tu dhadkna chod de,
jo bhi ho anjaam to iski fikar karna chod_de,
sahi nhi jati ab teri_gustakhiya,
such kehta hu aye_dil tu ab mera_sath chod de. 

Ek  Aadat Si Ho Gayi Hai  Chot_Khane Ki,
Bheegi Hue  Palko Sang  Muskurane Ki,
Kash  Anjam_Wafa Ka Hum  Pehle Hi Jante,
To  Kosish Bhi Nahi Karte  Dil_Lagane ki. 

 जाने क्या मुझसे ज़माना चाहता है,
मेरा दिल तोड़कर मुझे ही हसाना चाहता है,
जाने क्या बात झलकती है मेरे इस चेहरे से,
हर शख्स मुझे आज़माना चाहता है! 





 सफर वहीं तक है जहाँ तक तुम हो….

नजर वहीं तक है जहाँ तक तुम हो…..

हजारों फूल देखे हैं इस गुलशन में मगर….

खुशबू वहीं तक है जहाँ तक तुम हो।….

 

एक दिन जब हुआ प्यार का अहसास उन्हें,
वो सारा दिन आकर हमारे पास रोते रहे,
और हम भी इतने खुद गर्ज़ निकले यारों कि,
आँखे बंद कर के कफ़न में सोते रहे।

होंटों पे मोहब्बत के फ़साने नहीं आते 
साहिल पे समुंदर के ख़ज़ाने नहीं आते 

 

पलकें भी चमक उठती हैं सोने में हमारी 
आँखों को अभी ख़्वाब छुपाने नहीं आते 

 

दिल उजड़ी हुई एक सराए की तरह है 
अब लोग यहाँ रात जगाने नहीं आते 

 

यारो नए मौसम ने ये एहसान किए हैं 
अब याद मुझे दर्द पुराने नहीं आते 

 

उड़ने दो परिंदों को अभी शोख़ हवा में 
फिर लौट के बचपन के ज़माने नहीं आते 

 

इस शहर के बादल तिरी ज़ुल्फ़ों की तरह हैं 
ये आग लगाते हैं बुझाने नहीं आते 

 

अहबाब भी ग़ैरों की अदा सीख गए हैं 
आते हैं मगर दिल को दुखाने नहीं आते।

 क्यों न ग़ुरूर करूँ मैं अपने आप पे
मुझे उसने चाहा जिसके चाहने वाले हज़ार थे ….!
 

 मोहब्बत कुछ अलग सी है मुझे उससे,
वो मेरे ख्यालों में नही दुआओ में रहती है..

मुद्दत के बाद उसने जो आवाज़ दी मुझे, 
कदमों की क्या बिसात थी, साँसे ठहर गईं

कुछ फर्जी खयाल भी दिल को सताते हैं…
जैसे कि हम उन्हें बहुत याद आतें हैं…

दिल को था आपका बेसबरी से इंतजार,
पलके भी थी आपकी एक झलक को बेकरार,
आपके आने से आयी है कुछ ऐसी बहार,
कि दिल बस मांगे आपके लिये खुशियाँ बेशुमार ! 

बहुत सी #बातें सोच #रखी थी

#तुम्हें बताने को
पर #मुद्दतों बाद जब #बात हुई

#तुमने तो #हाल भी न #पूछा..

 

Hindi Shero Shayari 

 

 

कोई कोई शख्श इतना खास होता है 
नजरो से दूर पर यादों में पास होता है 
कभी कभी ही आता है पैगाम उनका 

पर हर 
पैगाम से अपनेपन का एहसास होता है